रेल राज्य मंत्री दर्शना जरदोश द्वारा पुनर्विकसित वडोदरा रेलवे स्टेशन का लोकार्पण

सूरत , 1 जनवरी । रेल एवं कपड़ा राज्य मंत्री, भारत सरकार दर्शना जरदोश द्वारा वडोदरा स्टेशन पर आयोजित एक समारोह में पुनर्विकसित वडोदरा रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया गया |
           लोकार्पण के अवसर पर अपने उद्बोधन में दर्शना  जरदोश ने बताया कि 14.42 करोड़ रूपए की लागत से वडोदरा स्टेशन का पुनर्विकास किया गया है, जिसमें वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगजनों, गर्भवती महिलाओं एवं अन्य रेल यात्रियों के लिए स्तरीय सुविधाएं विकसित की गयी हैं, जिससे इन सभी को लाभ होगा | उन्होंने बताया कि भारतीय रेलवे पर 75 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास पर काम किया जा रहा है और यह समयबद्ध सीमा में पूर्ण होंगे| वडोदरा रेलवे स्टेशन विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल केवडिया जाने के लिए महत्वपूर्ण स्टेशन है| अहमदाबाद – केवडिया एवं बिलिमोरा – वधई  के बीच ट्रेनों में विस्टाडोम कोच की सुविधा उपलब्ध कराई गयी है जिसकी यात्रियों ने भी सराहना की है| उन्होने कहा कि स्वच्छ एवं सुन्दर रेलवे स्टेशन देशभर में चल रही विभिन्न रेलवे परियोजनाओं को समय पर पूरा करने, यात्रियों को और अधिक आरामदायक यात्रा एवं यात्री सुविधाएँ उपलब्ध कराने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है| कोरोना काल में हुए आर्थिक नुकसान की भरपाई करने के लिए माल भाड़े आय को बढ़ाने के लिए कई आकर्षक योजनाएं शुरु की गई है | उन्होंने यात्रियों से वर्तमान कोरोना महामारी के दौर में सुरक्षित यात्रा करने एवं कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने का भी अनुरोध किया |
उल्लेखनीय है कि वडोदरा रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास योजना को मार्च 2018 में देशभर के 70 रेलवे स्टेशनों सहित शार्ट लिस्ट किया गया ताकि यात्रियों के अनुभव को और भी यादगार एवं बेहतर बनाया जा सके| वर्तमान में वडोदरा स्मार्ट सिटी एवं हाई स्पीड टर्मिनल जैसे महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट चल रहे हैं | जिससे वडोदरा स्टेशन के पुनर्विकास को प्राथमिकता दी गई| इस परियोजना में वडोदरा शहर की ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक विरासत को सम्मिलित करते हुए मोन्यूमेंटल लुक दिया जाने का लक्ष्य रखा गया एवं तदनुसार इसके स्थापत्य में झरोखा,जाली एवं वट वृक्ष को मुख्य भाग में सम्मिलित किया गया|
रेल मंत्रालय द्वारा जून 2018 में इस परियोजना को स्वीकृति प्रदान की गई जिसमें वर्तमान यात्री सुविधाओं के विकास एवं अपग्रेड करने के साथ-साथ सर्कुलेटिंग एरिया का भी विकास सम्मिलित था ताकि वडोदरा रेलवे स्टेशन को वडोदरा शहर का एक प्रमुख केन्द्र बिन्दु बनाते हुए स्थानीय यातायात को और भी सुविधाजनक बनाया जा सके| इन सभी कार्यों के लिए सितम्बर 2018 में कार्य अवार्ड किया जिसमें स्टेशन बिल्डिंग में सुधार प्लेटफार्म सतह एवं छत में सुधार, स्टेशन डायरेक्टर, बुकिंग एवं पूछताछ कक्ष को तथा वेटिंग हॉल व यात्रियों की बैठक व्यवस्था को और बेहतर बनाना, कानकॉर्स हॉल का सौन्दर्यीकरण, सर्कुलेटिंग एरिया में उन्नत साइनेज लगाना, पे एंड यूज टायलेट को रिनोवेट करना, दिव्यांगजनों एवं वरिष्ठ नागरिकों के लिए एस्केलेटर, लिफ्ट व रैम्प का प्रावधान कर उनकी यात्रा को और आरामदायक बनाना जेसे महत्वपूर्ण कार्य किये गए | वडोदरा स्टेशन पर एवं सुर्कुलेटिंग एरिया में लाईट व्यवस्था को बेहतर बनाया गया एवं आधुनिक डिस्प्ले सिस्टम लगाया गया हे | यात्रियों की सुविधा के लिए इलेक्ट्रॉनिक इंफार्मेशन डिस्प्ले बोेर्ड लगाये गये है तथा जगह जगह लोकल आर्ट एवं स्थापत्य को प्रदर्शित किया गया है जो यात्री आकर्षण का केन्द्र है | लोकार्पण अवसर पर वडोदरा की सांसद रंजनबेन भट्ट, महापौर  केयूर रोकड़िया एवं विधायक जितेन्द्र सुखडिया, सीमा मोहिले तथा पश्चिम रेलवे के महा प्रबंधक आलोक कंसल व वडोदरा के डीआरएम अमित गुप्ता सहित अन्य गणमान्य रेल अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे |